Posted in March 2013

आधारकार्ड या घोडे की लगाम ?

अगर आप कोई बडी होटल या कोइ बडे मोल में या बडी होस्पिटल में गये, भले पेहली बार गये, और वहां के रिसेप्शन पर आप को कोइ मिठी आवाज में आपका नाम ले कर आपका स्वागत करे तो कैसा लगेगा ? आप खूश हो जायेंगे, आपको लगने लगेगा सारी दुनिया मुझे पहचानती है, आप का … Continue reading

वसुधैव कुटुम्बकम्

अगर कोइ शब्द पिडा दे सकते हैं तो ये दो वामपंथी शब्द “वसुधैव कुटुम्बकम्” आज पूरी मानव जात को पिडा दे रहे हैं । हमारे कथित राष्ट्र निर्माता इस की सच्चाई को जानते थे लेकिन उन्होंने जानबूज कर ही ईस मंत्र को जनता के दिलो-दिमाग में घुसा दिया । आज हम जागरुक है, और हमारे … Continue reading